Nirankari gazal Aao Saja Lei'n Aaj Ko lyrics in hindi at just lyrics.निरंकारी गज़ल आओ सज़ा लें आज को लिरिक्स हिन्दी में अब जस्ट लिरिक्स पर उपलब्ध हैं।
Posted inधार्मिक लिरिक्स हिन्दी में / निरंकारी गीतों के लिरिक्स हिन्दी में

निरंकारी गज़ल आओ सज़ा लें आज को लिरिक्स हिन्दी में

26 अगस्त 2024 निरंकारी गज़ल आओ सज़ा लें आज को लिरिक्स हिन्दी में अब जस्ट लिरिक्स पर उपलब्ध हैं । इस गज़ल के लिरिक्स जगत गीतकार जी ने लिखे हैं और विवेक नागपाल जी ने अपने सुरों से सजाया है ।

निरंकारी गज़ल की जानकारी

क्र.सं.विषयजानकारी
1गीत का नामआओ सज़ा लें आज को
2गायकविवेक नागपाल जी
3लेखक जगत गीतकार जी
4प्रकाशकBlessed Vivek Nagpal
5प्रकाशन तिथि26 अगस्त 2024

निरंकारी गज़ल आओ सज़ा लें आज को लिरिक्स की वीडियो

निरंकारी गज़ल आओ सज़ा लें आज को लिरिक्स हिन्दी में

खाईशों पर भला कब जोर चला है दिल का
खाईशों पर भला कब जोर चला है दिल का
एक पूरी हुई तो दूजी मचल जायेगी
वक्त थोड़ा है तो कुछ सीख लें इससे रोशन
वक्त थोड़ा है तो कुछ सीख लें इससे रोशन
ज़िन्दगी मोम की गुड़िया है पिघल जायेगी
ज़िन्दगी मोम की गुड़िया है पिघल जायेगी

आओ सज़ा लें आज को आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं
आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं
कल की तो छोडी ऐ हजूर पल का पता नहीं
आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं

होगी कबूल ना कभी हरगिज बन्दगी
होगी कबूल ना कभी हरगिज बन्दगी
ज़िक्र ए ख़ुदा तो है मगर ज़िक्र ए ख़ुदा तो है मगर खौफ़ ए ख़ुदा नहीं
ज़िक्र ए ख़ुदा तो है मगर खौफ़ ए ख़ुदा नहीं
कल की तो छोडी ऐ हजूर पल का पता नहीं
आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं

आने ना दीजीए कभी इस दिल में शक़ शोभा
आने ना दीजीए कभी इस दिल में शक़ शोभा …..2
यह जानलेवा मर्ज़ है यह जानलेवा मर्ज़ है जिसकी दवा नहीं
यह जानलेवा मर्ज़ है जिसकी दवा नहीं
कल की तो छोडी ऐ हजूर पल का पता नहीं
आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं

आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं
कल की तो छोडी ऐ हजूर पल का पता नहीं
आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं
आओ सज़ा लें आज को कल का पता नहीं
कल का पता नहीं
कल का पता नहीं …………..

जस्ट लिरिक्स पर निरंकारी गज़ल आओ सज़ा लें आज को के अलावा आपको यह भी पसंद आएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *