ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका लिरिक्स हिन्दी में

Sant nirankari mission, Nirankari geet Ae Murshad Ae Mere Aaqa lyrics in hindi at just lyrics

26 मई 2023 को प्रकाशित निरंकारी गीत / भजन ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका लिरिक्स हिन्दी में अब जस्ट लिरिक्स पर उपलव्ध हैं ।
इस निरंकारी गीत / भजन को भंगा जी , लवजीत जी और साथीयों ने गाया है। छंगा जी और भंगा जी ने इस भजन के लिरिक्स लिखे हैं ।

निरंकारी गीत /भजन के बारे में जानकारी


क्र.सं.
विषयजानकारी
1गीत/भजन का नामऐ मुर्शद ऐ मेरे आका
2गायकभंगा जी, लवजीत जी और साथियों ने
3लेखकछंगा जी और भंगा जी
4तारीख26 मई 2023
5copyrightसन्त निरंकारी मिशन

ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका लिरिक्स की विडियो

निरंकारी गीत ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका लिरिक्स हिन्दी में

लज पाल, लज पाल, लज पाल
प्रीत नूं तोड़ दे नहीं
जिहदी बांह फड़ लैंदे छोड़ दे नहीं
लजपाल प्रीत नूं तोड़ दे नहीं
जिहदी बांह फड़ लैंदे छोड़ दे नहीं
जिहदी बांह जिहदी बांह

फड़ लैंदे छोड़ दे नहीं —2
जिहदी बांह फड़ लैंदे छोड़ दे नहीं —2
एह गल ईमान दी ए
सतगुरु तों कोई नहीं सोहणा
मैनूं कसम क़ुरान दी ए
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका —-4
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, मैं तेरी बरदी हां—-2
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका —2
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, मैं तेरी बरदी हां—2
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां

दित्तियाँ खुदा ने तैनूं आप जिम्मेवारियाँ
दित्तियाँ खुदा ने तैनू आप जिम्मेवारियाँ—2
दोनों जहां दे विच तेरी सरदारियाँ
दोनों जहां दे विच तेरी सरदारियाँ —2
मैं वेख गुनाहां वल्ले, मैं वेख गुनाहां वल्ले
रहन्दी डरदी हां…
मैं वेख गुनाहां वल्ले, रहन्दी डरदी हां…
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां


ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका
मैं तेरी बरदी हां
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका
मैं तेरी बरदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां

दुनियाँ दा मालिक तूं ए
अल्लाह दा प्यारा ए–2

दुनियाँ दा मालिक तूं ईं,
दुनिया दा , दुनियाँ दा
दुनियाँ दा मालिक तूं ए
अल्लाह दा प्यारा ए–2
दुखियां दा हामी
टुट्टे दिलां दा सहारा ए
दुखियां दा हामी
टुट्टे दिलां दा सहारा ए
दुखियां दा हामी
टुट्टे दिलां दा सहारा ए
तेरी हो गई नज़र कर्म,
तेरी हो गई नज़र कर्म—3
हुण ना मैं डरदी हां
तेरी हो गई नज़र कर्म,
हुण ना मैं डरदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, मै तेरी बरदी हां—2
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां

कदमां दी ख़ाक मैनूं देदे तू जरूरी ए
कदमां दी ख़ाक मैनू देदे तू जरूरी ए—-3
बक्श देईं तू दाता ए सितार नूं सबूरी ए
बक्श देईं तू दाता ए सितार नूं सबूरी ए—2
दे बन्दगी तू मेरे मालिक,
दे बन्दगी तू मेरे मालिक—-3
अरदासां करदी हां
दे बन्दगी तू मेरे मालिक—-3
अरदासां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां

ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका, ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका—2
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका
मैं तेरी बरदी हां
ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका
मैं तेरी बरदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां
परदे कज्ज लईं रोज हशर दे
मैं अर्जां करदी हां

जस्ट लिरिक्स पर ऐ मुर्शद ऐ मेरे आका लिरिक्स के अलावा आपको यह भी पसंद आएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.