बरसा दाता सुख बरसा लिरिक्स हिन्दी में

बरसा दाता सुख बरसा लीरिक्स – Nirankari Geet Lyrics, महफ़िल – ए – रुहनीयत(एपिसोड-1), just lyrics

बरसा दाता, सुख बरसा के लिरिक्स हिन्दी में आपको जस्ट लीरिक्स वैबसाइट पर उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।  यह एक निरंकारी गीत है जिसमें सबके सुख की कामना की गई है।

गीत के बारे में जानकारी

क्रम सं.विषयजानकारी 
1गीत का नामबरसा दाता सुख बरसा
2लेखकबाबू विजय जी
3गीतकारपवनप्रीत जी
4संगीत प्रबन्धकशुभदीप जी और अर्पित जी
5एल्बममहफ़िल – ए – रुहानियत (एपिसोड-1)
6प्रकाशित कर्तासन्त निरंकारी मण्डल (रजि.), दिल्ली

बरसा दाता सुख बरसा लीरिक्स हिन्दी में

बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा
बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

चुन चुन कांटे, नफ़रत के
प्यार अमन के फूल खिला

बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

तन से कोई है दुखी
मन से कोई है दुखी
हे प्रभू दया करो
कुल जहान हो सुखी
सब के दुखों की, तुम हो दवा
आँगन आँगन सुख बरसा

बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

चुन चुन कांटे, नफ़रत के
प्यार अमन के फूल खिला
बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

वैर, द्वेष, दो मिटा
तुम सकल संसार से
नाम का सुमिरन करें
मिलके सारे प्यार से
मानव से मानव, हो ना जुदा
आँगन आँगन सुख बरसा

बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

चुन चुन कांटे, नफ़रत के
प्यार अमन के फूल खिला
बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

झोलियाँ, सुखों से तू
चाहे दाता भर भी दे
पर विजय बाबू हमें
तू सबर शुकर भी दे
माने हर पल, येही दुआ
आँगन आँगन सुख बरसा

बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

चुन चुन कांटे, नफ़रत के
प्यार अमन के फूल खिला
बरसा दाता, सुख बरसा
आँगन आँगन सुख बरसा

इस निरंकारी गीत की आधिकारिक विडियो देखें

आपको यह भी  पसंद आएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.