किताब ए गुरमत

nirankari song geet bhajan kitab a gurmat lyrics in hindi at just lyrics.निरंकारी गीत भजन किताब ए गुरमत लिरिक्स हिन्दी में अब जस्ट लिरिक्स पर

सन्त निरंकारी मिशन के भक्ति भरे गीत / भजन किताब ए गुरमत के लिरिक्स हिन्दी में अब जस्ट लिरिक्स पर उपलब्ध हैं । इस निरंकारी गीत के बारे में और अधिक जानकारी के लिए हमें अभी तक कुछ प्राप्त नहीं हो पाया है, इसलिए हम हर जगह सन्त निरंकारी मिशन को ही सारे श्रेय दे रहे हैं । यदि आपको इसके बारे में अधिक जानकारे हो तो आप हमें अवश्य बताने की कृपा करें ताकि हमारे पाठकों तक अधिक से अधिक सटीक जानकारी पहुँच सके।

निरंकारी गीत / भजन के बारे में जानकारी

क्र.सं.विषयजानकारी
1गीत/भजन का नामकिताब ए गुरमत
2गायकसन्त निरंकारी मिशन
3लेखकसन्त निरंकारी मिशन
4उपलक्ष्य/एल्बमसन्त निरंकारी मिशन
5copyrightसन्त निरंकारी मिशन

निरंकारी गीत / भजन किताब ए गुरमत की विडियो

अभी उपलब्ध नहीं है

निरंकारी गीत / भजन किताब ए गुरमत लिरिक्स हिन्दी में

किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर
नहीं जो आता यह इल्म तुझको
तो आलिमों से पढ़ा लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

जहां हो दौलत जहां हो ताकत
हजारों सजदे किए हैं तूने
जो मुफलिसी में मिले ये साहिब
वहां भी गर्दन झुका लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

है काम अच्छा दिए जलाना
मगर है दामन को भी बचाना
दिखाने को झूठी शान ओ शौकत
ना आग घर में लगा लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

शाम को भी खाक मिलाए
मजलूम बेबस की बद्दुआएं
हंसा के रोते उठा के गिरते
हर एक दिल की दुआ लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर
नहीं जो आता यह इल्म तुझको
तो आलिमों से पढ़ा लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

जहां हो दौलत जहां हो ताकत
हजारों सजदे किए हैं तूने
जो मुफलिसी में मिले ये साहिब
वहां भी गर्दन झुका लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

है काम अच्छा दिए जलाना
मगर है दामन को भी बचाना
दिखाने को झूठी शान ओ शौकत
ना आग घर में लगा लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

शाम को भी खाक मिलाए
मजलूम बेबस की बद्दुआएं
हंसा के रोते उठा के गिरते
हर एक दिल की दुआ लिया कर
किताब ए गुरमत मिली है तुझको
तू पढ़के जीवन सजा लिया कर

जस्ट लिरिक्स पर इस निरंकारी गीत / भजन के लिरिक्स के आलावा आपको यह भी पसंद आएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.